गुम है किसी के प्यार में

गुम है किसी के प्यार में : एपिसोड की शुरुआत में, निनाद ने बदतमीजी से कहा, वे सई के खास मेहमान हैं। सब उन्हें अजीब नजरों से देख रहे थे। विराट ने पुलकित और देवयानी का स्वागत किया और सभी से कहा कि वे यहां शादी की रस्म के लिए आए हैं। अश्विनी उनका स्वागत करने आई लेकिन विराट ने उनसे कहा कि मैं आज उनके लिए सब कुछ करूंगा। विराट ने कहा, शादी के वक्त मैंने सब कुछ गवा दिया इसलिए अब मैं सारी रस्में पूरी करूंगा। रस्म करते हुए विराट ने उनसे उन की शादी में हुई रुकावट के लिए माफी मांगी। एक रीति के अनुसार विराट ने पुलकित का कान खींचा और उसे सलाह दी कि वह मेरी बहन की ठीक से देखभाल करे। देवयानी विराट से कान छोडऩे की जिद कर रही थी लेकिन विराट कुछ देर तक उनका कान खींचते रह

विराट ने उन्हें घर के अंदर आने के लिए कहा क्योंकि चव्हाण के घर में आपका स्वागत है। पुलकित ने सई से कहा कि मैं आप सभी के लिए मिठाई लाया हूं। सई ने उससे कहा कि वह इसे अश्विनी को सौंप दे क्योंकि वह इसकी मुखिया है। अश्विनी भावुक हो जाती है और सई से कहती है कि पहली बार मुझे लग रहा है कि इस घर में मेरी कोई अहमियत है।

पाखी ने सई को इतना शामिल होने के लिए ताना मारा क्योंकि आपने कहा था कि आप यहां केवल विराट के लिए हैं, फिर आप ऐसी चीजें क्यों कर रहे हैं। अश्विनी ने सई के लिए स्टैंड लिया और पाखी से कहा कि वह बीच में न आए। देवयानी और पुलकित भवानी से आशीर्वाद लेने वाले थे लेकिन उन्होंने देवयानी को धक्का दिया और पुलकित को यह कहकर अपमानित किया कि इस घर में आपका मूल्य एक नौकर के बराबर है। पुलकित ने उससे कहा कि मैं देवयानी के साथ कोई दुर्व्यवहार नहीं सहूँगा।

भारत प्रहरी

भारत प्रहरी एक पत्रिका है,जिसपर समाचार,खेल,मनोरंजन,शिक्षा एवम रोजगार,अध्यात्म,...

Leave a comment

Your email address will not be published.