Homeसमाचारउत्तर प्रदेशडी ए वी पी जी कॉलेज गोरखपुर से निकाली गई सड़क सुरक्षा...

डी ए वी पी जी कॉलेज गोरखपुर से निकाली गई सड़क सुरक्षा जागरूकता रैली

आज रोवर्स रेंजर इकाई द्वारा मनाए जा रहे सड़क सुरक्षा सप्ताह के अंतिम दिन डी ए वी पी जी कॉलेज गोरखपुर की प्राचार्या डॉ ० (श्रीमती) राजकुमारी पाण्डेय ने सड़क सुरक्षा जागरूकता रैली को महाविद्यालय के प्रांगण से रवाना किया। रैली को संबोधित करते हुए प्राचार्या ने यातायात के नियमों और प्रतीकों के बारे में बताते हुए कहा कि यदि हम सड़क सुरक्षा नियमों का पूर्णतः पालन करते है,तो हम सड़को पर होने वाली दुर्घटनाओं से बच सकते है।वहीं रोवर्स रेंजर इकाई के प्रभारी डॉ ० संजय कुमार पाण्डेय ने सड़क सुरक्षा के अनिवार्य संकेत,चेतावनी संकेत तथा सूचनात्मक संकेत के बारे में बताया।

छात्रों द्वारा सड़क सुरक्षा – जीवन रक्षा नुक्कड़ नाटक का प्रदर्शन किया गया

रैली के छात्र और छात्राओं ने बक्शीपुर चौराहे पर पहुंच कर “सड़क सुरक्षा – जीवन रक्षा” नुक्कड़ नाटक का प्रदर्शन किया। बक्शीपुर चौराहे पर आयोजित कार्यक्रम के अंतर्गत राहगीरों को इस संबंध में जागरूक किया तथा बिना हेलमेट दो पहिया वाहन और बिना सीट बेल्ट पहने चारपहिया वहां के चालकों को गुलाब का फूल देकर सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन करने हेतु प्रेरित किया। नुक्कड़ नाटक में अमन सिंह,सूची,अखिल,शिवानी,शोभित,अंजलि,प्राची,मोहिनी इत्यादि की प्रस्तुति सराहनीय रही।

पोस्टर प्रतियोगिता एवम स्लोगन प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कृत किया गया।

वहीं इस सप्ताह आयोजित किए गए पोस्टर प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पंकज भारती,द्वितीय स्थान मनमोहन कन्नोजिया,तृतीय स्थान शिवानी सिंह तथा सांत्वना पुरस्कार दीपमाला गुप्ता को प्राप्त हुआ। स्लोगन प्रतियोगिता में प्रथम स्थान विभा त्रिपाठी,द्वितीय स्थान पंकज भारती,तृतीय स्थान नरेंद्र गौड़ तथा सांत्वना पुरस्कार हर्ष शाही को प्राप्त हुआ। इस अवसर पर डॉ ० संजय कुमार पांडेय, डॉ स्नेहलता त्रिपाठी, डॉ ० परेश सनत, डॉ ० विनीत कुमार, डॉ ० संजय कुमार मिश्रा, डॉ ० विनोद कुमार गुप्ता, डॉ ० विनोद कुमार गुप्ता, डॉ पंकज तिवारी,श्री राजीव चौधरी,श्री अरूण श्रीवास्तव,श्री विनोद कुमार एवम सभी रोवर्स-क्रू तथा रेंजर्स की छात्राएं उपस्थित रहीं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

अखिलेश जैन on अहं! रंगमंचास्मि।