Homeटीवी सीरियलप्रतिज्ञा 2: 8 अप्रैल 2021 के एपिसोड 19 की पूरी कहानी हिंदी...

प्रतिज्ञा 2: 8 अप्रैल 2021 के एपिसोड 19 की पूरी कहानी हिंदी में लिखित अपडेट के साथ || Pratigya 2,8th April 2021 Episode 19 Written Update In Hindi

प्रतिज्ञा 2 – एपिसोड की शुरुआत होती है,कृष्णा गर्व को समझाता है,की अब कुछ नही होगा अब तो तुम्हारे दादू भी हमारे साथ है। इसी बीच ठकुराइन आती है,और कृष्णा को थप्पड़ मारती है और गर्व की बात छुपाने पर उसे कोसती है। ठकुराइन कहती है,की मैं कभी अपने पोते और बेटे के खिलाफ जाऊंगी। कृष्णा मां द्वारा थप्पड़ खाने पर खुशी के आंसू रोता है और उसे गले लगा लेता है,फिर ठकुराइन गर्व को देखकर उसे दुलार करती है।

अगले दृश्य में सज्जन सिंह कृष्णा से गर्व के द्वारा एक्सीडेंट से लेकर जो कुछ भी हुआ वह सब बताने को कहते है। कृष्णा अपने पिता सज्जन सिंह को सब कुछ शुरुआत से बताता है,की किस तरह गर्व कार में बैठा,एक्सीडेंट कैसे हुआ और उसने उसे बचाने के लिए क्या – क्या किया? सज्जन सिंह कृष्णा की पूरी कहानी सुनता है,और फिर कहता है, की इसका मतलब राधे की मौत तुम्हारी वजह से हुई। कृष्णा हामी भरता है,सज्जन सिंह उसे कहते है,की तुम्हे राधे से मुलाकात के सभी सबूत मिटाने होंगे और प्रतिज्ञा को किसी तरह से यह केस लड़ने से रोकना होगा,फिर सज्जन उसे अपने साथ कहीं ले जाने की बात करता है।

अगले दृश्य में रात में कृष्णा और सज्जन कहीं जाते हुए दिखाई देते है। सज्जन सिंह एक चारपाई पर बैठता है,और कृष्णा को एक जगह बता कर उसे खोदने को कहता है। कृष्णा गहराई तक उस जगह को खोदता है,तो उसे एक संदूक(बॉक्स) मिलता है। सज्जन सिंह उसे उस बॉक्स को खोलने को कहता है। कृष्णा उस बॉक्स को खोलता है,और देखता है,की इसमें बंदूके रखी हुई है। सज्जन सिंह थोड़ी देर बाद बोलते है,की कृष्णा हम 9 साल पहले ही इन शस्त्रों का त्याग कर चुके थे,तुम्हारी बीवी के कहने पर खून खराबा सब कुछ छोड़ दिए थे। सोचा था की कुछ दिन तक झुक के सामान्य लोगो की तरह रहेंगे,लेकिन अब फिर प्रारब्ध हमे ऐसा करने से मना कर रहा है,बलवंत त्यागी जैसा बाहुबली हमारा सर कुचले यह हमे बर्दास्त नही है। 

अब यूपी,बिहार,हरियाणा नही पूरा भारत हिलेगा।

उसके बाद सज्जन सिंह कृष्णा से कहता है,की तुम अपनी बीवी पर यह केस छोड़ने के लिए दबाव डालो।

जितना ताकत पति होने का लगा सकते हो,उतना लगा दो। 

अगले दृश्य में कोमल गर्व को खाना खिला रही होती है,फिर गर्व और अधिक खाने से मना कर देता है इस। बाद कोमल उसे सोने के लिए कहती है,लेकिन वह सोता नहीं है। फिर सज्जन सिंह उसे देखकर आते है,और उसे सोने को कहते है,सज्जन सिंह के कहने पर गर्व आराम से सो जाता है। 

प्रतिज्ञा 2

उसके बाद सुबह का दृश्य बलवंत की गाड़ी एक डेयरी पर रुकती है और वह और उसका भाई वहां के आदमियों को मारना शुरू करते है। फिर धरा उन्हे वहीं एक रूम में बंद कर देता है,और जैसे ही सीसीटीवी फुटेज देखने बेंच पर बैठता है,वैसे ही प्रतिज्ञा बाहर आ जाती है। उसके बाद प्रतिज्ञा आगे बढ़ती है और डेयरी में अंदर जाने ही वाली होती है,की वहां आदर्श आ जाता है। प्रतिज्ञा को कहता है,आपको आने की क्या जरूरत थी?  आपको जो चाहिए था, मैं भेजवा देता। इस पर प्रतिज्ञा उससे पूछती है,की क्या यह डेयरी आपकी है? आदर्श उसे हामी भरता है। प्रतिज्ञा उसे सीसीटीवी फुटेज दिखाने के लिए बोलती है। आदर्श वहां के आदमियों को बुलाता है,लेकिन कोई नही सुनता है।

आदर्श स्वयं प्रतिज्ञा को लेकर सीसीटीवी रूम में जाते है। प्रतिज्ञा उस दिन का फुटेज खोजती है,जिस दिन राधे की अंतिम लोकेशन वहां से मिलती है। उस दिन की फाइल शायद किसी ने डिलीट कर दी थी। प्रतिज्ञा आदर्श से पूछ पड़ती है की,क्या कोई हमारे आने से पहले कोई यहां आया था?  आदर्श ना में जवाब देता है।

तभी कमरे में बंद पड़े आदमी शोर करना चालू कर देते है। दोनो दरवाजा खोलते है। उनके पास आते है,और उनकी हालत के बारे में पूछते है,और ऐसा किसने किया पूछते है? दोनो जवाब देते है,की दो अजनबी आदमी आए थे और मार – मार कर हमारा बुरा हाल कर दिया,और हम उनसे कुछ पूछ नही पाए।

प्रतिज्ञा समझ जाती है,यह बलवंत त्यागी की करामात है,वह उन्हें उसका फोटो दिखाती है,वह आदमी बलवंत के पहचान लेता है। प्रतिज्ञा मन ही मन बलवंत त्यागी पर गुस्सा करती है,और कृष्णा को सारी बातें फोन पर बताती है। कृष्णा प्रतिज्ञा को केस छोड़ने को कहता है,लेकिन प्रतिज्ञा नहीं मानती है।

कृष्णा फिर सज्जन सिंह को बताता है,की आदर्श के डेयरी पर जाकर सीसीटीवी फुटेज डिलीट करना आपका बिलकुल सही फैसला था,नही तो बलवंत या फिर प्रतिज्ञा कोई भी देख लेता तो मामला बिगड़ सकता था। सज्जन सिंह कहते है,मिनटों में बचे हो बेटा,हमे और अधिक चौकन्ना रहने की जरूरत है। कोई भी गलती ना हो। 

थोड़ी देर बाद कृष्णा को फोन आता है,और वह बलवंत त्यागी के बेटे के हत्यारे के बारे में जानकारी रखने की बात कहता है,कृष्णा उस पर गुस्सा होकर कहता है,जानते हो तो इसकी जानकारी बलवंत अथवा पुलिस को दो। वह फिर कहता है,की मुझे पता है,की तुम्हारे बेटे गर्व ने हो बलवंत के बेटे को मारा है। कृष्णा मोबाइल स्पीकर पर रखता है और सज्जन सोन भी सुनता है और एपिसोड समाप्त हो जाता है।

अगली कड़ी में – आदर्श प्रतिज्ञा को कृष्णा की घड़ी देता है,और सुबह यहां डेयरी पर आने की सूचना देता है,और कहता है,की सुबह यह यही छूट गया था। वहीं बलवंत त्यागी प्रतिज्ञा को कहता है,की सीसीटीवी फुटेज आपके ही परिवार में से की ने डिलीट किया था। प्रतिज्ञा घर के हाल में कृष्णा का हाथ अपने सर पर रखती है,और सब कुछ सही – सही बताने को कहती है,की क्यों तुम आदर्श के डेयरी पर गए थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

अखिलेश जैन on अहं! रंगमंचास्मि।