25.1 C
Delhi
Sunday, August 1, 2021
ADVERTISEMENT

मैडम सर: एपिसोड 214 की पूरी कहानी का लिखित सारांश हिंदी मेंं || Madam Sir, Episode 214 Written Update In Hindi

मैडम सर : एपिसोड की शुरुआत में,महिला पुलिस थाने में बहुत सारे लोग कयामत की रिपोर्ट लिखवाने आए,जिसमे नवाब साहब भी आते है,और वह भी कयामत के खिलाफ रिपोर्ट लिखवाते है। सभी कयामत के लूट से परेशान रहते है,फिर नवाब साहब सभी लोगो के साथ धरने पर बैठने की धमकी देते है। फिर पुष्पा सिंह के कहने पर वह महिला पुलिस थाने वालो को 24 घंटे की। मौहलत देते है। पुष्पा सिंह कयामत को कोसती है,जिसपर करिश्मा सिंह एकदम गुस्सा हो जाती है। 

दूसरी तरफ एक प्रेस कांफ्रेंस में अनुभव सिंह और हसीना मलिक बैठे हुए है। सभी कयामत को लेकर चर्चा करते है,और अनुभव सिंह की अंगूठी चोरी होने का भी प्रश्न कर देते है। जिसपर अनुभव सिंह के कहते है,की हम भांग के नशे में थे,इसलिए हमारी अंगूठी चोरी हो गई। मीडिया वाले हसीना मलिक और अनुभव के अफेयर के बारे में पूछते है,जिसपर हसीना कहती है,ऐसा कुछ नही है। फिर कयामत के पकड़ने की बात फिर छिड़ती है,हसीना कयामत को जल्द से जल्द हवालात के पीछे डालने की बात कहती है।

अगले दृश्य में नकली कयामत के घर का दृश्य दिखाया गया है,जिसमे उसकी एक दोस्त उसे रानी नाम से संबोधित करती है,और वह हसीना मलिक को हराने की और मालामाल होने के लिए यह सब करना ही पड़ेगा कहती है।

अगले दृश्य में हसीना मलिक थाने में पहुंचती है,तभी वहां चीता चीख पड़ता है,सभी उसके पास जाते है,तो देखते है,की उसके पैर पर एक ईट गिर गया है। चीता दीवार पर कील लगा रहा था,तभी ईट उसके उपर गिर जाता है, ईट गिरने के बाद अंदर एक बॉक्स दिखाई देता है। उस बॉक्स को निकालने के लिए, मैडम सर उस बॉक्स को बाहर निकालने का आदेश देती है। बिल्लू एयर चीता उस दीवार को तोड़ देते है,और बॉक्स निकलते है,तो पता चलता है,की उसमे खजाना है। सभी खजाने के 10 प्रतिशत के बारे में सोचने लगते है,की हमे मिल जायेगा। हसीना मलिक सबको ऑर्डर देती है,की खजाने के बारे में किसी को भी पता नही चलना चाहिए।

अगले दृश्य में सभी खजाने को पहनकर तरह – तरह के सपने देखते है,फिर करिश्मा सिंह सभी को खजाना बॉक्स में ठीक से रखने का ऑर्डर देती है। उसी समय थाने में चाय लेकर आने वाला वेटर खजाना देख लेता है। जिसके बाद वह जाकर अपने होटल वाले को बता देता है। वेटर की बात नकली कयामत यानी रानी की दोस्त सुन लेती है,और वह जाकर उसे बता देती है।

अगले दृश्य में दिखाया गया है,की करिश्मा सिंह कयामत के केस के बारे में पूछने के लिए हसीना मलिक के केबिन में जाती है। हसीना मलिक उसे इस केस में मतलब रखने से मना कर देती है,और सहायिका के तौर पर वह पुष्पा सिंह को रखती है। हसीना मलिक करिश्मा सिंह को अन्य केसों पर ध्यान देने की बात कहती है। 

करिश्मा सिंह सोचने लगती है,की कहीं ऐसा तो नह हो गया की हसीना मैडम को मुझे शक हो गया है,वह मुझे कयामत समझने लगी है और यहीं पर यह एपिसोड समाप्त हो जाता है

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

9,997FansLike
45,000SubscribersSubscribe

Latest Articles