25.1 C
Delhi
Sunday, August 1, 2021
ADVERTISEMENT

श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2020 : आज मनाया जाएगा श्री कृष्ण जन्मोत्सव

श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2020 : आज मनाया जाएगा श्री कृष्ण जन्मोत्सव आज भाद्रपद मास के कृष्णपक्ष की अष्टमी तिथि है इसी दिन भगवान विष्णु के  8वें अवतार अर्थात भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ था। इस बार यह तिथि आज यानी 11 और 12 अगस्त को पड़ा है । गृहस्थ और पारिवारिक जीवन व्यतीत करने वाले आज यानी 11अगस्त को जन्मोत्सव मनाएंगे,जबकि संत,सन्यासी और वैष्णव कल बुधवार 12 अगस्त को मनाएंगे। इस बार श्री कृष्ण जन्मोत्सव में रोहिणी नक्षत्र और अष्टमी तिथि का संयोग नहीं बन रहा है। 

आज सुबह 9 बजकर 6 मिनट से अष्टमी तिथि लग जाएगी। हर वर्ष भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव को भरी धूमधाम से मनाया जाता है किन्तु इस बार कोविड – 19 के कारण सभी को घर पर ही श्री कृष्ण जन्माष्टमी मानने के लिए गवर्मेंट ने कहा है। इस बार जन्माष्टमी से संबंधित सभी कार्यक्रम जैसे ,मंदिरों में भजन कीर्तन,दही – हांडी के कार्यक्रम कहीं जगह विशेष पर भीड़ इकट्ठा न होना आदि पर सरकार द्वारा रोक लगा दी गई है। इस तरह से अब सबको कोविड – 19 के संक्रमण से बचने के लिए घर पर ही श्री कृष्ण जन्मष्टमी का पर्व माना होगा।इस कड़ी में सबके दिमाग में यह बात जरूर घर कर गई है कि श्री कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व कैसे मनाएं। भगवान श्री कृष्ण का श्रृंगार कैसे करें उनका भोग किस प्रकार लगाएं,मूर्ति का चयन कैसे करे? उनका पूजन किस प्रकार करना चाहिए? इन सब बातो के लिए चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। यह सब बातें हम आपको इस लेख के माध्यम से एक – एक करके बताएंगे।

श्री कृष्ण की मूर्ति स्थापना

घर में भगवान श्री कृष्ण की मूर्ति स्थापना के लिए सबसे शुभ दिन आज ही है,आप अपनी मनोकामना के अनुसार मूर्ति स्थापना कर सकते है,जैसे सुखी दाम्पत्य जीवन हेतु राधा – कृष्ण की मूर्ति,संतान के लिए बाल कृष्ण की मूर्ति,सभी मनोकामना पूर्ति हेतु मुरलीधर श्री कृष्ण की स्थापना करें। लेकिन यदि कोविड – 19 महामारी के चलते इस त्योहार को सीमित तौर पर मनाया जाएगा ।यदि आपको मूर्ति लाने में असहजता है तो घर पर जो पहले की मूर्ति है उसी का श्रृंगार कर के पूजन करें।

श्री कृष्ण का श्रृंगार किस प्रकार करना चाहिए।

आज श्री कृष्ण जन्मोत्सव के दिन सबके में में यह प्रश्न रहते है कि भगवान श्री कृष्ण का श्रृंगार कैसा रहना चाहिए किस वस्तु के प्रयोग से भगवान श्री कृष्ण प्रसन्न रहते है । श्री कृष्ण पीताम्बर अर्थात पीले वस्त्र अती प्रिय है अतः इन्हें पीताम्बर वस्त्र धारण करवाना चाहिए।इनके श्रृंगार में पुष्पों का प्रयोग अति फलदायक है। अतः पुष्पों का भी प्रयोग करना चाहिए। उनके श्रृंगार में गोपी चंदन का भी प्रयोग करना अनिवार्य है। काले रंग का प्रयोग भगवान श्री कृष्ण की पूजा में पूर्णतः वर्जित है।इस लिए भगवान श्री कृष्ण की पूजा में काले रंग का प्रयोग ना करें।

श्री कृष्ण के जन्मोत्सव में किसका भोग लगाएं?

भगवान श्री कृष्ण जन्मोत्सव के दिन भगवान श्रीकृष्ण को कहीं –  कहीं धनिए की पंजीरी,पंचामृत,मेवा और माखन आदी का भोग लगाना अनिवार्य है। इन सबमें तुलसी दल डालना अनिवार्य है इस दिन भगवान श्री कृष्ण को कई व्यंजनों के साथ सात्विक भोजन करना भी अनिवार्य है।

सभी सगे संबंधियों को फोन से दे श्री कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई।

इस बार हमें कोविड – 19 महामारी के चलते घर पर ही इस पर्व को मनाना है।इसलिए हमें अपने सभी सगे संबंधियों को इस पर्व की शुभकामनाएं अपने मोबाइल फोन से सोशल मीडिया के जरिए अवश्य देना चाहिए।हमें अाज व्रत रखकर भगवान श्री कृष्ण से इस कोरोना महामारी को दूर करने की प्रार्थना भी करनी चाहिए। इसी के साथ हम आप सबको श्री कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई देते है। हम आपको – आपके समस्त परिवार के सभी लोगो के उचित स्वास्थ्य की कामना करते है। भारत प्रहरी की तरफ से समस्त देशवासियों को श्री कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई।

Related Articles

Stay Connected

9,997FansLike
45,000SubscribersSubscribe

Latest Articles