हाईलाइट

* भारत की महिला क्रिकेट टीम ने इंग्लैंड को सेमीफाइनल में चार रन से हराकर फाइनल में जगह बनाई है।

* भारत की महिला क्रिकेट टीम अब फाइनल में गोल्ड मेडल की लड़ाई लड़ने कल उतरेगी।

* ऑस्ट्रेलिया या फिर न्यूजीलैंड से होगा भारत का फाइनल मुकाबला।

CWG 2022,IND W VS ENG W: कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के पहले सेमीफाइनल मुकाबले भारत और इंग्लेंड की महिला क्रिकेट टीम आमने – सामने थी। भारत की कप्तान हरमनप्रीत कौर ने पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया।

जिसका सही साबित करने में स्मृति मंधाना ने कोई कसर नहीं छोड़। स्मृति मंधाना ने आते ही बाउंड्री लगाने शुरू कर दिए और दूसरे छोर पर सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा भी जमी रही। स्मृति मंधाना ने मात्र 23 गेंदों में ही अपना अर्धशतक पूरा कर लिया। पहला पावरप्ले समाप्त होने के बाद भी स्मृति का बल्ला खामोश नही रहा। पहले पावरप्ले तक भारतीय टीम का स्कोर 64 रन बिना किसी विकेट के निसान पर था। उसके बाद भारत को पहला झटका 8 वें ओवर में शेफाली वर्मा के रूप में लगा। इसके एक रन के बाद ही 77 के स्कोर पर स्मृति मंधाना भी दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से पीछे कैच दे बैठी। भारत के दो लगातार झटके के बाद कप्तान हरमनप्रीत कौर मैदान पर आई। 77 के स्कोर पर ही कप्तान हरमनप्रीत कौर का भी एलबीडब्ल्यू के लिए इंग्लैंड के प्लेयर ने अपील किया और अंपायर ने आउट करार दे दिया। जिसके बाद हरमनप्रीत ने रिव्यू लिया और वह बच गई। उन्होंने जेमिमाह के साथ पारी को संभाला लेकिन 20 रन के निजी स्कोर पर वह भी अपना विकेट गवां बैठी। उसके बाद दीप्ति शर्मा और जेमिमा रोड्रिग्स ने भारतीय पारी को 158 रन तक ले गई लेकिन दीप्ति दो गेंद पहले ही आउट हो गई। जेमिमा ने पारी की अंतिम गेंद पर चौका लगाकर भारतीय पारी को 164 रन तक पहुंचाया।

भारत की तरफ से बल्लेबाजी में स्मृति मंधाना ने सर्वाधिक 61 रन बनाए,जेमिमा ने नाबाद 41 रन बनाए वही दीप्ति शर्मा ने 22 और कप्तान हरमनप्रीत कौर ने 20 रन का महत्वपूर्ण योगदान दिया।

165 रनों का लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की शुरुआत बिल्कुल मन मुताबिक रही। उन्होंने पहले दो ओवर में बिना कोई विकेट गवाएं 23 रन बना लिए थे लेकिन अगले ओवर में दीप्ति शर्मा ने तेजी से रन बना रही डंकली को पवेलियन दिखा दिया। उसके बाद व्याट 35 रन और कप्तान नट साइवर ने 41 रन की पारी खेली लेकिन आखिरी तक क्रीज पर नहीं रह पाई। अंतिम ओवर में इंग्लैंड को 14 रनों की आवश्यकता थी। गेंद करने के लिए स्नेह राणा आई और पहली गेंद पर कोई रन नहीं दिया। दूसरी गेंद पर केवल एक रन ही बन सका। तीसरी गेंद पर विकेट मिला। चौथी गेंद पर लगभग स्नेह ने विकेट ले ही लिया था लेकिन बाउंड्री पर तैनात फील्डर ने कैच छोड़ दिया। पांचवीं गेंद पर भी केवल एक रन बना और अंतिम गेंद पर छक्का लगाने के बाद भी इंग्लैंड यह मैच चार रन से हार गई। भारत ने इसके साथ ही फाइनल में जगह बना ली है। अब उसका मुकाबला गोल्ड मेडल के लिए दूसरे सेमीफाइनल में जीतने वाली टीम से होगा। दूसरे सेमीफाइनल का मुकाबला ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड से होगा।

भारत प्रहरी

भारत प्रहरी एक पत्रिका है,जिसपर समाचार,खेल,मनोरंजन,शिक्षा एवम रोजगार,अध्यात्म,...

Leave a comment

Your email address will not be published.